Functional dependency in hindi

Functional dependency:-

Functional dependency एक table में दो attributes के मध्य constraints के समूह को कहते है।

Functional dependency तब होती है जब table(relation) का एक attribute दूसरे attribute को uniquely identify करता है।

Functional dependency को एक तीर(->) चिन्ह्  द्वारा प्रदर्शित किया जाता है। यदि X->Y, तो हम कह सकते है कि ” X dependent है Y पर”।

निवेदन:- आपको ये पोस्ट कैसी लगी आप हमें कमेंट के माध्यम से अवश्य बतायें। हमें आपके कमेंट्स का बेसब्री से इन्तजार रहता है। अगर आपके कोई सवाल या कोई topics है तो हमें बतायें हम उसको एक या दो दिन के अंदर यहाँ प्रकाशित करेंगे और हाँ पोस्ट शेयर जरूर करें।

12 thoughts on “Functional dependency in hindi”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *