Symmetric and asymmetric key cryptography in hindi

symmetric key cryptography in hindi:-

image

symmetric key cryptography वह cryptography है जिसमें एक ही key का प्रयोग plain text के encryption तथा cipher text के decryption के लिए किया जाता है।

इस प्रकार की cryptography में sender तथा receiver के पास एक ही समान key होती है।
Symmetric key cryptography को private key cryptography भी कहते है।

Asymmetric key cryptography in hindi:-

image

Asymmetric key cryptography में दो अलग-अलग keys का प्रयोग data को encrypt तथा decrypt करने के लिए किया जाता है। इसमें एक public key होती है जो सबको पता होती है और दूसरी secret key होती है जो सिर्फ रिसीवर(receiver) को पता होती है।

इसे public key cryptography भी कहा जाता है।

उदहारण के लिए यदि युगल एक message कमल को send करता है तो वह कमल की public key का प्रयोग message को encrypt करने के लिए करेगा तथा उसके बाद कमल उस message को अपनी private या secret key के द्वारा उसे decrypt करेगा।

Asymmetric key cryptography में देखने वाली बात यह है कि सिर्फ public key का प्रयोग message को encrypt करने के लिए किया जाता है तथा केवल secret key का प्रयोग message को decrypt करने के लिए किया जाता है।

निवेदन:-अगर आपका किसी subjects को लेकर कोई सवाल या कोई
topics है तो हमें बतायें हम उसको एक या दो दिन के अंदर यहाँ हिंदी में प्रकाशित करेंगे।

10 thoughts on “Symmetric and asymmetric key cryptography in hindi”

  1. I satisfy with this network security and cryptology. Thank you
    But I have questions I want their answer in Hindi.
    Q.subkey generation in the Blowfish algorithm.
    Q. Active and passive attacks?
    Q.block ciper?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *