वेब सर्वर तथा एप्लीकेशन सर्वर क्या है तथा इनके मध्य अंतर क्या है?

difference between web server and application server in hindi

वेब सर्वर और एप्लीकेशन सर्वर के मध्य अंतर

सबसे पहले हम web server तथा application server की परिभाषाओं को पढेंगे:-

web server in hindi {वेब सर्वर}:-

web server एक प्रोग्राम है| जो कि HTTP {हाइपर टेक्स्ट ट्रान्सफर प्रोटोकॉल} का प्रयोग users को web pages को serve करने में करता है| जब कोई यूजर किसी web page के लिए request करता है तो वह उसे वेब पेज serve करता है|

उदारहण के लिए:- अगर आपका दोस्त आपको मैसेज करता है और कहता है कि मैंने अभी http://www.ehindistudy.com में बढ़िया notes पढ़ें है तू भी पढ़ ले तो आप इस url को अपने कंप्यूटर के ब्राउज़र में खोलते है तो एक वेब पेज खुलता है वेबसाइट के यह पेज ही वेब सर्वर के द्वारा उपलब्ध कराये जाते है|

application server in hindi {एप्लीकेशन सर्वर}:-

एप्लीकेशन सर्वर एक सर्वर प्रोग्राम होता है जो कि एप्लीकेशन प्रोग्राम के लिए business logic उपलब्ध करवाता है|

एप्लीकेशन सर्वर जो है वह वेब एप्लीकेशनों को बनाने की सुविधा उपलब्ध करवाता है तथा इन वेब एप्लीकेशन को run करने का वातावरण भी देता है.

वेब सर्वर और एप्लीकेशन सर्वर के मध्य अंतर

अब हम इनके मध्य अंतर को पढेंगे:-

1:- वेब सर्वर केवल http, https प्रोटोकॉलों को ही सपोर्ट करता है|
जबकि एप्लीकेशन सर्वर केवल http और https तक ही सीमित नही है| यह http, https के साथ-साथ iiop, rmi प्रोटोकॉलों को सपोर्ट करता है|

2:- वेब सर्वर छोटे तथा मध्यम आकार वाले वेब एप्लीकेशन के लिए उपयुक्त है|
एप्लीकेशन सर्वर का प्रयोग सामान्यतया बड़े पैमाने में किया जाता है|

3:- वेब सर्वर jee मोड्यूल के servlet, JSP तकनीको के आधार पर विकसित किया गया है|
जबकि एप्लीकेशन सर्वर जो है वह servlet, JSP, EJB, JTA, जावा मेल तकनीको के आधार पर विकसित किया गया है|

4:- वेब सर्वर केवल servlet कंटेनर तथा JSP कंटेनर का ही प्रयोग करते है|
जबकि एप्लीकेशन सर्वर जो है वह servlet कंटेनर, JSP कंटेनर तथा EJB कंटेनर का प्रयोग करता है|

5:- वेब सर्वर केवल .war extensions वाली फाइलों को ही deploy करता है|
जबकि एप्लीकेशन सर्वर .war तथा .ear दोनों फाइलों को deploy कर सकता है|

6:- वेब सर्वर में रिसोर्स यूटिलाइजेशन निम्न होता है|
एप्लीकेशन सर्वर में रिसोर्स यूटिलाइजेशन उच्च होता है|

7:- वेब सर्वर का प्रयोग सबसे पहले 1989 में किया गया था|
एप्लीकेशन सर्वर का प्रयोग 1990s में किया गया था|

8:- वेब सर्वर के उदाहरण:- tomcat, apache, JWS, तथा Reisn आदि है|
एप्लीकेशन सर्वर के उदाहरण:- weblogic, Jboos, तथा websphere आदि है|

निवेदन:- आपको यह पोस्ट पसंद आयी हो तो हमें comment के माध्यम से बताइये तथा इसे अपने दोस्तों के साथ share करें. धन्यवाद.

3 thoughts on “वेब सर्वर तथा एप्लीकेशन सर्वर क्या है तथा इनके मध्य अंतर क्या है?”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *