types of computer in hindi

Types of computer in hindi (कंप्यूटर के प्रकार):-

Computer ke kitne parkar hote hai

तकनीकी रूप में हम कम्प्यूटरों को दो भागों में बाँट सकते हैं. पहले तरह के कंप्यूटरों को एनालॉग कहा जाता है और दूसरी तरह के कंप्यूटरों को डिजिटल कहा जाता है. वर्तमान समय में एनालॉग कंप्यूटरों का विकास लगभग बंद हो गया है और अब डिजिटल कंप्यूटर ही चलन में हैं.

डिजिटल कंप्यूटरों को आसानी से समझने के लिए हम उन्हें चार भागों में बाँट सकते हैं:-

1:- माइक्रो कंप्यूटर
2:- मिनी कंप्यूटर
3:- मेनफ़्रेम कंप्यूटर
4:- सुपर कंप्यूटर

1:- micro computer in hindi:-

image

micro कंप्यूटर का विकास सन् 1970 में हो गया था. micro प्रोसेसर लगे होने के कारण इन्हें माइक्रो कंप्यूटर कहा गया. इस तकनीक वाले कंप्यूटर आकर में छोटे, कीमत में सस्ते, और क्षमता में पहले से बेहतर हैं. अभी तक हम जो personal कंप्यूटर प्रयोग करते हैं वह micro कंप्यूटर के ही category में आते हैं.

micro कंप्यूटर में सबसे पहला सफल कंप्यूटर पीसी एक्सटी था. जिसमें 8088 माइक्रोप्रोसेसर का प्रयो किया गया था. इसमें 64 किलोबाइट (KB) रैम अर्थात प्राइमरी memory और 10 मेगाबाइट (MB) वाली हार्डडिस्क का प्रयोग किया जा सकता था.
बाद में इसकी memory प्रयोग करने की क्षमता एक मेगाबाइट हो गयी. इस कंप्यूटर में फ्लापी डिस्क का भी प्रयोग किया गया. जिसकी स्टोरिंग क्षमता 180-360 किलोबाइट तक थी.

पीसी-एटी (PC-AT)

पीसी एक्सटी के पश्चात पीसी-एटी का चलन शुरू हुआ और 1985 में यह कंप्यूटर बाजार में आये. यह पहले से ज्यादा शक्तिशाली थे और इसमें 16 बिट का सिद्धांत प्रयोग किया गया था. जबकि एक्स्टी कंप्यूटरों में 8 बिट का सिद्धांत इस्तेमाल हुआ था. पीसी-एटी की सीरीज में निम्न कंप्यूटर आज तक बाजार में आ चुके हैं:-
*पीसी-एटी 286
*पीसी-एटी 386
*पीसी-एटी 386-DX
*पीसी-एटी 486
*पीसी-एटी 486-DX
*पेंटियम-4

2:- mini computer in hindi:-

माइक्रो कंप्यूटरों के बाद मिनी कंप्यूटरों का नंबर आता है. यह कंप्यूटर मेनफ़्रेम कंप्यूटरों से छोटे और पर्सनल कंप्यूटरों से बड़े हैं. इन कंप्यूटरों का प्रयोग बड़ी-बड़ी कंपनियां करती हैं और इन्हें विश्वसनीय माना जाता है.

कीमत में यह माइक्रो कंप्यूटर से बहुत महंगे हैं. इसलिए इनका व्यक्तिगत रूप से इस्तेमाल संभव नहीं है.

3:- mainframe computer in hindi:-

मेनफ़्रेम कंप्यूटर की प्रोसेसिंग शक्ति मिनी कंप्यूटरों से बहुत ज्यादा होती है. और यह वैज्ञानिक कार्यों में या बहुत बड़ी व्यापारिक कंपनियों द्वारा डेटा processing के सन्दर्भ में प्रयोग किये जाते हैं. इस कंप्यूटर पर एक साथ बहुत से व्यक्ति अलग-अलग कार्य कर सकते है.

4:- super computer in hindi:-

image

super कंप्यूटर अभी तक बनाये गये कंप्यूटरों से ज्यादा शक्तिशाली है और इसका प्रयोग हमारे देश में मौसम विज्ञान और अन्तरिक्ष विज्ञान में होता है. हमारे देश में super कंप्यूटर बनाने वाली संस्था का नाम “सीडक” है. इस संस्था ने परम-10000 के नाम से दुनिया का सबसे शक्तिशाली सुपर कंप्यूटर बनाया है. super कंप्यूटर की डेटा processing की इतनी तेज होती है कि यह एक सेकंड में खरबों गणनाएं कर लेता है. आज हमारा देश भी super कंप्यूटर बनाने वाले देशों की category में आता है.

निवेदन:- अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी तो हमें comment के माध्यम से बताएं तथा इसे अपने दोस्तों के साथ share करें. धन्यवाद,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *