subnetting & supernetting in hindi & its benefits in hindi

Subnetting in hindi:-

subnetting एक ऐसी विधि है जिसमें एक बड़े नेटवर्क को दो या दो से अधिक छोटे लॉजिकल नेटवर्कों में विभाजित कर दिया जाता है. इन छोटे नेटवर्कों को subnetwork या subnet कहा जाता है.

इन subnetwork या subnet का अपना अलग-अलग एड्रेस होता है. इन छोटे नेटवर्कों को बनाने के लिए subnet mask का प्रयोग किया जाता है.
subnet mask को IP एड्रेस में network address तथा host address के बीच अंतर करने के लिए किया जाता है.
subnet mask का केवल एक ही मुख्य उद्देश्य होता है यह पहचानना कि IP address का कौन सा भाग नेटवर्क एड्रेस है और कौन सा भाग host एड्रेस.

why use subnetting? (subnetting की जरुरत क्यों पड़ी?)

इसकी जरुरत इसलिए पड़ी क्योंकि जब इन्टरनेट popular हुआ तो सभी IP एड्रेस consume होने वाले थे. अर्थात् उस समय IP एड्रेस की shortage (कमी) हो गयी थी. जिससे इन्टरनेट का भविष्य खतरे में था और यह खत्म हो जाता. इसी परेशानी से बचने के लिए subnetting को बनाया गया.

benefits of subnetting in hindi (इसके फायदे):-

इसके फायदे निम्नलिखित है:-

1:- इसमें नेटवर्क की security बेहतर होती है क्योंकि हम प्रत्येक subnet को मैनेज कर सकते है.

2:- नेटवर्क छोटे होने से collision डोमेन और ब्रॉडकास्ट डोमेन भी छोटे हो जाते है. जिससे ट्रैफिक और ब्रेकडाउन की समस्या में कमी आती है.

3:- इसमें administrative control बेहतर हो जाता है क्योंकि बड़े नेटवर्क की तुलना में छोटे नेटवर्क को मैनेज तथा administrate करना आसान होता है.

supernetting in hindi:-

supernetting जो है वह subnetting की विपरीत की विधि है.

subnetting में एक नेटवर्क को दो या दो से अधिक छोटे नेटवर्कों में विभाजित कर दिया जाता है.
जबकि supernetting में छोटे छोटे नेटवर्कों को मिलाकर एक बड़ा नेटवर्क बनाया जाता है जिसे supernetwork या supernet कहते है.

supernetting को classless inter-domain routing (CIDR) भी कहते है. CIDR वास्तव में एक प्रोटोकॉल है जिसके द्वारा दो या दो से अधिक नेटवर्क मिलकर एक बड़े नेटवर्क का निर्माण करते है.

why use supernetting? इसका प्रयोग क्यों करते है?

जब किसी नेटवर्क में हमें ज्यादा valid IP address की जरुरत पड़ती है. और हमारा classful IP address उस जरुरत को पूरा ना कर पा रहा हों. तो हमें supernetting की जरुरत इसलिए पड़ती है.

benefits of supernetting in hindi (इसके लाभ):-

इसके लाभ निम्नलिखित है:-

1:- इसके द्वारा organisation अपने नेटवर्क साइज़ को बदल सकती है.

2:- इसके द्वारा राऊटर अच्छी तरह से routing की सूचना को स्टोर कर सकता है.

3:– यह CIDR एड्रेस कोडिंग स्कीम को सपोर्ट करता है .

4:- यह addresses को सुरक्षित रखता है.

5:- इससे नेटवर्क की परफॉरमेंस तथा गति बढती है.

6:- नेटवर्क के congestion में कमी आती है.

7:- इसमें नेटवर्क security बढती है.

निवेदन:- आपको यह पोस्ट कैसी लगी हमें comment के द्वारा बताइए तथा इस पोस्ट को अपने दोस्तों ने साथ share करें. धन्यवाद.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *