SNMP in hindi

SNMP in hindi:-

SNMP (एसएनएमपी) का पूरा नाम simple network management protocol है. तथा इसका प्रयोग नेटवर्क को मैनेज करने के लिए किया जाता है.

यह एक इन्टरनेट स्टैण्डर्ड प्रोटोकॉल है जो कि IP नेटवर्क में डिवाइसों को मॉनिटर करता है तथा इन devices की जानकारी (डेटा) को एकत्रित तथा organise करता है.

एसएनएमपी को ज्यादातर सभी नेटवर्क डिवाइस जैसे:- हब, स्विच, राऊटर, ब्रिज, सर्वर, मॉडेम, तथा प्रिंटर आदि के द्वारा सपोर्ट किया जाता है.

SNMP जो है वह यूजर डाटाग्राम प्रोटोकॉल (UDP) का प्रयोग करता है तथा यह TCP/IP प्रोटोकॉल सूट का एक हिस्सा है परन्तु यह TCP/IP तक ही सिमीत नहीं है.

एसएनएमपी को IETF (इन्टरनेट इंजीनियरिंग टास्क फ़ोर्स) ने डिफाइन किया था.

SNMP components in hindi:-

इसके कंपोनेंट्स निम्नलिखित है:-

1:- SNMP manager

2:- SNMP agent

3:- managed device

4:- MIB

1:- SNMP manager:- यह कंप्यूटर सिस्टम होता है जो कि एसएनएमपी agent के द्वारा नेटवर्क ट्रैफिक को मॉनिटर करता है तथा यह इन एजेंट्स से सवाल (query) करता है, इनसे उत्तर लेता है तथा इन्हें कंट्रोल करता है.

2:- managed devices:– मैनेजड डिवाइस के अंदर हमारा स्विच, राऊटर, हब, सर्वर, ब्रिज, मॉडेम, आदि नेटवर्किंग डिवाइस आ जाती है. इसे नेटवर्क एलिमेंट भी कहते है.

3:- SNMP agent:- यह एक सॉफ्टवेर प्रोग्राम होता है जो कि नेटवर्क एलिमेंट में स्थित होता है. यह डिवाइस से real-time सूचना को एकत्रित करता है तथा इस सूचना को एसएनएमपी manager को देता है. तथा यह सूचना को स्टोर तथा retrieve भी करता है.

4:- MIB (management information database):- यह एक वर्चुअल इनफार्मेशन स्टोरेज है जहाँ मैनेजमेंट इनफार्मेशन को स्टोर किया जाता है.

Snmp components

SNMP versions:-

इसके अभी तक तीन versions आ चुके है. SNMPv1, SNMPv2, SNMPv3.

SNMPv3 यह इसका लेटेस्ट version है जो कि SNMPv1 तथा SNMPv2 की तुलना में बहुत सुरक्षित है. इसलिए मैं आपको recommend करूँगा कि आप SNMPv3 का प्रयोग करें.

इसे भी पढ़ें:- HDLC क्या है?

osi model क्या है?

SNMP basic operations (commands) in hindi:-

इसकी कुछ सामान्य कमांड्स निम्नलिखित है.

1:- GET:- GET ऑपरेशन का प्रयोग एसएनएमपी manager के द्वारा एक या एक से ज्यादा values को agent से प्राप्त करने के लिए किया जाता है.

2:- GET NEXT:- यह GET ऑपरेशन की तरह ही सामान है परन्तु इसका प्रयोग agent से अगली values को प्राप्त करने के लिए किया जाता है.

3:- SET:- इसका प्रयोग manager के द्वारा मैनेजड डिवाइस की वैल्यू को सेट करने के लिए किया जाता है.

4:- TRAP:- इस कमांड का प्रयोग एसएनएमपी agent के द्वारा एसएनएमपी मैनेजर को acknowledgment मैसेज भेजने के लिए किया जाता है.

5:- GET BULK:- इस ऑपरेशन का प्रयोग बड़े डेटा को retrieve करने के लिए किया जाता है.

6:- INFORM:- यह कमांड भी TRAP की तरह ही समान है जिसका प्रयोग एसएनएमपी एजेंट के द्वारा एसएनएमपी मेनेजर को acknowledgement मैसेज भेजने के लिए किया जाता है.

यह पोस्ट आपके लिए helpful रही है तो comment में बताएं. तथा इसे अपने दोस्तों के साथ share करें. धन्यवाद.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *