Fourth normal form(4NF) & fifth normal form(5NF) in hindi

Fourth normal form(4NF):-

एक relation या table तब 4NF में होती है जब वह निम्नलिखित condition को satisfy करते है:-
” एक relation या टेबल तब 4NF में होती है यदि वह 3 normal form(3NF) में हो तथा उसके पास कोई multivalued dependencies ना हो।”

Multivalued dependency क्या होती है?
“Multivalued dependency तब होती है जब एक table में एक से ज्यादा independent(स्वतंत्र) multivalued attributes होते है।” multivalued dependency को ->> चिन्ह् से प्रदर्शित किया जाता है।

उदाहरण के लिए:- कोई मोबाइल कंपनी प्रत्येक model के दो color(white व grey) के मोबाइल बनाती है।

normal form

अब यहां पर manuf_year और color एक दूसरे से independent है तथा वे mobile_model पर dependent है। तो हम इस प्रकार की dependencies को निम्न प्रकार से प्रदर्शित करते है।
mobile_model->>manuf_year
mobile_model->>color

Fifth normal form(5NF):-

एक relation या table तब 5NF में होती है जब वह निम्नलिखित condition को satisfy करती है:-
“एक टेबल या रिलेशन तब 5NF में होती है जब वह 4NF में हो तथा table में कोई non-loss decomposition ना हो।”

3 thoughts on “Fourth normal form(4NF) & fifth normal form(5NF) in hindi

Leave a Comment