What is mobile ip in hindi (मोबाइल आईपी क्या है?)

दोस्तों क्या आपको पता है what is mobile ip in hindi (मोबाइल आईपी क्या है?) तथा इसका इस्तेमाल क्यों किया जाता है एवं इसकी working क्या है? अगर आप इसके बारें में जानना चाहते है तो सही जगह पर आये हैं. मैं आप इसके बारें पूरे विस्तारपूर्वक बताऊंगा तो चलिए पढना start करते है:-

मोबाइल आईपी क्या है? (what is mobile ip hindi)

mobile ip का पूरा नाम mobile internet protocol है. इसे MIP भी कहते है. यह एक स्टैण्डर्ड communication protocol है जिसके द्वारा mobile users एक नेटवर्क से दूसरे नेटवर्क पर एक permanent IP address के जा सकते है. अर्थात् users का IP address दूसरे नेटवर्क में जाने पर बदलता नहीं है.

इसे internet engineering task force (IETF) RFC 2002 में डिफाइन किया गया है.

mobile IP से मतलब है कि किसी दूसरे नेटवर्क में भी एक fix IP address से internet traffic को भेज सकते है. इसके द्वारा users अपने mobile या wireless devices में internet का use कर सकते है.

जब कभी mobile device (node) अपने home network को छोड़कर दूसरे नेटवर्क (foreign network) में चला जाता है तो home agent आईपी एड्रेस को care-of-address को भेज देता है उसके बाद care-of-address इसको foreign agent को भेज देता है और अंत में foreign agent इस IP address को mobile device को भेज देता है.

Care-of-address- यह एक temporary address होता है जिसका प्रयोग mobile node के द्वारा तब किया जाता है जब वह अपने home network से बाहर चला जाता है.

home address- यह mobile node का permanent IP address होता है इसका प्रयोग mobile node अपने home network में करता है.

mobile IP का सबसे ज्यादा प्रयोग WAN (wide area networks) में किया जता है जहाँ users को अपना mobile device विभिन्न LANs में विभिन्न IP address के साथ carry करना पड़ता है.

यह एक wireless protocol नहीं है हालांकि इसको cellular network के IP infrastructure के साथ employ कर सकते हैं.

mobile IP
आप इसके चित्र को देख कर इसे आसानी से समझ सकते है.

components of mobile IP in hindi

इसके components निम्नलिखित है:-

1:- mobile node

2:- home agent

3:- foreign agent

1:- mobile node – यह एक डिवाइस होती है जिसके पास roaming facilities होती है जैसे- cell phone, personal digital assistants (PDA), या laptop आदि.

2:- home agent (HA) –  यह home network में router होता है जो कि mobile node से कम्युनिकेशन करने में मदद करता है.
HA जो है वह mobile nodes की पूरी information स्टोर करके रखता है तथा यह correspondent node से roaming mobile node तक data को tunnel से होकर भेजता है.

3:- foreign agent (FA) – यह foreign network में स्थित होता है तथा यह अपने नेटवर्क में आने वाले mobile nodes की सूचना को स्टोर करके रखता है. foreign agent एक router होता है जो कि care-of-address को advertise करता है. care-of-address का प्रयोग mobile node के द्वारा किया जाता है.

FA जो है वह home agent से mobile node को packets की delivery भी करता है (जब मोबाइल नोड foreign network में होता है तो)

mobile IP working in hindi (मोबाइल आईपी की कार्यविधि)

इसमें तीन phases होते है जो कि निम्नलखित है:-

1:- agent discovery:- इसमें mobile node अपने foreign agent तथा home agent को discover करता है.

2:- registration:- mobile node अपनी current location को foreign agent तथा home agent के साथ register करता है.

3:- tunneling:- home agent जो है वह care-of-address तक एक tunnel स्थापित करता है. इस tunnel से packets को route किया जाता है.

advantage & disadvantage of mobile IP in hindi (मोबाइल आईपी के फायदे तथा नुकसान)

advantage:-

1:- इसके द्वारा हम बिना किसी परेशानी के इन्टरनेट का इस्तेमाल कर सकते है.

2:- हम roaming में भी अपने मोबाइल का प्रयोग कर सकते है.

disadvantage:-

1:- इसकी एक परेशानी यह है कि मोबाइल डिवाइस में कभी कभी signal weak हो जाते है तथा signal होकर भी internet नहीं चलता.

निवेदन:- hello दोस्तों, मुझे उम्मीद है कि यह पोस्ट आपको पसंद आई होगी अगर आपको यह अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ share कीजिये तथा अपने questions को कमेंट करके पूछ सकते है. धन्यवाद. जय हिंदी.

Leave a Comment