What is Locality of Reference in Hindi

hello दोस्तों! आज मैं आपको Locality of reference in Hindi के बारें में बताऊंगा. और इसके प्रकार के बारें में भी पढेंगे तो चलिए start करते हैं:-

Locality of reference in Hindi

Locality of reference को principle of locality भी कहते हैं. यह प्रोसेसर की tendency (प्रवृत्ति) है जिसके कारण वह थोड़े-थोड़े समय के बाद समान memory location को बार बार एक्सेस करता है.

दूसरे शब्दों में कहें तो, “Locality of reference से मतलब है कि प्रोग्राम उन data तथा instructions का प्रयोग दुबारा करते है जिनको उसने थोड़ी देर पहले use किया था.”

locality of reference मुख्यतया तीन प्रकार का होता है:-

  1. Temporal
  2. Spatial
  3. Sequential

Temporal locality:-

यह हमें बताता है कि किसी program में memory locations को भविष्य में फिर से एक्सेस किए जाने की संभावना है। अगर ऐसा है तो हमें हमें इस data की copy को cache memory में स्टोर कर देना चाहिए जिससे कि हमें बार बार main memory को access ना करना पड़े. और हम data को तेजी से access के पायें.

Spatial locality:-

इसका अर्थ है कि यदि किसी memory location को access किया गया है तो यह संभावना ज्यादा है कि उसके आस पास के memory locations को भविष्य में access किया जा सकता है.

यह temporal locality से थोडा अलग है क्योंकि spatial locality में एक्सेस किये गये memory location के आस पास के memory locations की बात की गयी है जबकि temporal में हमने वास्तविक memory location की बात की थी.

Sequential locality:-

यह एक विशेष प्रकार का spatial लोकेलिटी है. यह तब होता है जब data elements को linear (रैखिक) रूप में arrange तथा access किया जाता है.

इसमें मेमोरी लोकेशन को एक एक करके ascending और descending क्रम में access किया जाता है.

निवेदन:- अगर आपके लिए यह आर्टिकल थोडा सा भी helpful रहा हो तो इसे आप दूसरों के साथ भी share करें जिससे कि उनकी भी हेल्प हो जाए, और आपके जो भी प्रशन है आप उन्हें comment के द्वारा बता सकते है. thanks.

1 thought on “What is Locality of Reference in Hindi”

Leave a Comment