PHP in Hindi – PHP क्या है और इसके फायदे

हेल्लो दोस्तों! आज हम इस आर्टिकल में PHP in Hindi – (PHP क्या है और इसके फायदे) के बारें में पढेंगे. इसे बहुत ही आसान भाषा में लिखा गया है. इसे आप पूरा पढ़िए, यह आपको आसानी से समझ में आ जायेगा. तो चलिए शुरू करते हैं:-

PHP in Hindi – PHP क्या है?

PHP का पूरा नाम (Hypertext Preprocessor) है। यह एक स्क्रिप्टिंग भाषा है, जिसे वर्ष 1994 में Rasmus Lerdorf के द्वारा develop किया गया था और वर्ष 1995 में launch किया गया था।

इस भाषा का उपयोग web को develop करने के लिए किया जाता है।

दुसरे शब्दो में कहे तो यह एक open source language है जिसका प्रयोग web application को develop करने के लिए किया जाता है। इस भाषा का प्रयोग dynamic page बनाने के लिए भी किया जाता है।

यह एक सरल भाषा है और इस भाषा को सिखना काफी आसान है।

दूसरी scripting भाषाओ की तुलना में PHP काफी तेज भाषा है। इस भाषा को object-oriented के नाम से भी जाना जाता है। इस भाषा को HTML में embedded किया जा सकता है।

PHP भाषा के उदहारण ASP और JSP हो सकते है। इस भाषा में एक प्रकार का code होता है जिसे server side पर execute किया जाता है।

Features of PHP in Hindi – PHP की विशेषताएँ

1- PHP की speed दूसरी भाषाओ की तुलना में तेज होती है।

2- यह भाषा अपनी मेमोरी का उपयोग करती है जिसके कारण सर्वर में किसी प्रकार का कोई load नहीं पड़ता.

3- इस भाषा की performance बेहतर होती है।

4- इस भाषा का syntax काफी सरल है, जिसकी वजह से इसे सिखना और समझना आसान होता है।

5- इस भाषा के कोड को HTML tag में embedded किया जाता है।

6- यह भाषा (WINDOWS, MAC, LINUX और UNIX ऑपरेटिंग सिस्टम) को सपोर्ट करती है।

7- यह भाषा लगभग सभी प्रकार के web server को सपोर्ट करती है। जैसे Apache, Netscape और Microsoft IIS.

8- वेबसाइट को डिज़ाइन करने के लिए PHP एक सुरक्षित भाषा है जिसमे वायरस के हमलो को रोकने के लिए layer का उपयोग किया जाता है।

9- इस भाषा को सिखने से पहले यूजर को HTML, CSS और JavaScript की basic जानकारी होनी चाहिए।

10- वेबसाइट को डिज़ाइन करते वक़्त PHP वेबसाइट के source code को maintain करके रखती है जिसकी मदद से वेबसाइट को डिज़ाइन करना आसान हो जाता है।

11- यह भाषा developers की एक बड़ी community है जो documents , tutorials, online help और FAQS को ,नियमित रूप से अपडेट करती है।

12- PHP भाषा का प्रयोग ज्यादातर web page को develop करने के लिए किया जाता है। इसके अलावा इस भाषा का उपयोग dynamic website को डिज़ाइन करने के लिए किया जाता है।

13- यह भाषा लगभग सभी मुख्य डेटाबेस जैसे MySQL, SQLite, ODBC, आदि को सपोर्ट करती है।

14- यह एक open source language है .

15- इस भाषा में यूजर अपनी जरूरतों के अनुसार कोड को change कर सकता है।

Application of PHP in Hindi – PHP के उपयोग

1.PHP का उपयोग web page और web application को develop करने के लिए किया जाता है। developers इस भाषा का इस्तेमाल वेबसाइट को डिज़ाइन करने के लिए भी करते है।

2- इस भाषा का इस्तेमाल वेबसाइट के डेटा को manage करने के लिए किया जाता है। यह भाषा यूजर को templates, libraries, और session management system प्रदान करती है, जिसके चलते यूजर अपनी जरूरतों के अनुसार डेटा को change और manage कर सकता है।

3- इस भाषा का उपयोग enterprise application को डिज़ाइन करने के लिए किया जाता है जिन एप्लीकेशन का प्रयोग इ-कॉमर्स कंपनियों के द्वारा किया जाता है।

4- इस भाषा का उपयोग करके online community को create किया जा सकता जो दुनिया भर के developers को आपस में connect करने का काम करती है ,जिसकी मदद से developers एक दुसरे की मदद कर सकते है।

5- इस भाषा का उपयोग PDF files को create करने के लिए किया जाता है PHP PDFlib टूल का प्रयोग करके PDF फाइलों को create करती है।

6- यह भाषा dynamic pdf फाइलों को create करने में मदद करती है।

7- इस भाषा का उपयोग इमेज और ग्राफ़िक्स को PDF file में कन्वर्ट करने के लिए किया जाता है।

8- इसका उपयोग gif, jpeg और png जैसी images को बनाने के लिए किया जाता है जिन images का साइज यूजर अपनी इच्छा अनुसार बदल सकता है।

9- इस भाषा का उपयोग template डिज़ाइन करने के लिए किया जाता है जिन templates को आसानी से manage किया जा सकता है।

10- यह भाषा wordpress plugins को डिज़ाइन करने में मदद करती है।

11- इस भाषा का उपयोग web developers के द्वारा freelancing के लिए किया जाता है।

12- इस भाषा का उपयोग emails को create करने के लिए किया जाता है .

Advantages of PHP in Hindi – PHP के फायदे

1- PHP एक open source language है जिस लैंग्वेज को free में download किया जा सकता है।

2- इस भाषा को execute करना काफी आसान होता है।

3- यह भाषा नियमित रूप से update होती रहती है , जिसकी वजह से यूजर नए नए features देखने को मिलते है।

4- इस भाषा को किसी भी ऑपरेटिंग सिस्टम में आसानी से run किया जा सकता है जैसे Linux , Window , Unix आदि।

5- इस भाषा का इस्तेमाल करना काफी आसान होता है। यदि यूजर को C और JAVA Language के बारे में basic नॉलेज है तो वह PHP का उपयोग आसानी से कर सकता है।

6- यह भाषा code को manage करने में मदद करती है।

7- यह भाषा web application को secure करती है जिसकी वजह से hackers एप्लीकेशन में attack नहीं कर पाते।

8- इस भाषा में कोड को reuse किया जा सकता है।

9- यह भाषा आसानी से load हो जाती है और डेटाबेस के साथ कनेक्ट हो जाती है। दूसरी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की तुलना में PHP भाषा (slow internet speed) पर आसानी से load हो जाती है।

Disadvantages of PHP in Hindi – PHP के नुकसान

1- इस भाषा में बड़े साइज वाले एप्लीकेशन को develop करना मुश्किल होता है .

2- इस भाषा में highly modular नहीं होता जिसकी वजह से एप्लीकेशन को manage करना मुश्किल होता है।

3- इस भाषा के द्वारा बनाई गई ऑनलाइन एप्लीकेशन की performance खराब हो सकती है।

4- PHP के द्वारा बनाई गई ऑनलाइन एप्लीकेशन को modify करना मुश्किल होता है।

5- इस भाषा में debugging tool नहीं होता जिसकी वजह से गलतियों को पहचानना काफी मुश्किल हो जाता है।

6- इस भाषा को मेन्टेन करना मुश्किल होता है।

7- इस भाषा को extra code लिखने के लिए built-in function की ज़रूरत पड़ती है।

8- यह open source language है जिसके कारण यह सुरक्षित नहीं होती।

PHP Data Types in Hindi – PHP डेटा टाइप क्या है?

PHP डेटा टाइप का उपयोग अलग अलग प्रकार के डेटा को variable में स्टोर करने के लिए किया जाता है।

यह भाषा आठ प्रकार के डेटा को variable में स्टोर कर सकती है, जिन्हे तीन प्रकार की category में डिवाइड किया गया है।

1- Scalar Types (predefined)

इसे चार category में डिवाइड किया गया है :-

  • Boolean

यह Data Type का सबसे सरल प्रकार है। Boolean केवल Truth Value को रिप्रेजेंट करता है जैसे True या False .

  • Integer

Integer में केवल whole numbers मौजूद होते है जिनमे negative और positive संख्याए होती है।

  • Null

यह special type के variables होते है जिनकी वैल्यू NULL होती है।

  • string

String (non-numeric) डेटा होता है जिसका अर्थ यह है की इसमें letters, alphabets, numbers, और special characters मौजूद होते है।

2- Compound Types (user-defined)

इसे दो category में डिवाइड किया गया है :-

  • Array

यह एक प्रकार का compound data होता है जो एक जैसे डेटा को एक ही variable में store करता है।

  • Object

यह value और functions दोनों को variable में store कर सकता है।

3- Special Types

इसे भी दो category में डिवाइड किया गया है :-

  • Resources

यह पूरी तरह से PHP डेटा टाइप नहीं है। इसका मुख्य कार्य external resource को variable में store करना होता है।

  • NULL

यह एक special डेटा टाइप है जिसकी value NULL होती है।

How PHP Work in Hindi – PHP कैसे काम करती है?

PHP के कोड को HTML के साथ लिखा जाता है जिसे execute करने के लिए सर्वर को इनस्टॉल करना ज़रूरी होता है।

यह भाषा एक सॉफ्टवेयर की तरह काम करती है जिसके सोर्स कोड को वेब सर्वर में execute किया जाता है।

इसके बाद web developers द्वारा निर्धारित टास्क को perform किया जाता है।

इसके बाद PHP यूजर के द्वारा दिए गए output को कुछ millisecond में ब्राउज़र को भेज देती है।

जब भी यूजर अपने वेब ब्राउज़र के द्वारा किसी PHP document के लिए सर्वर को request भेजता है तब server उस document को खोजता है और उसके बाद documents को PHP processor को भेज देता है।

PHP processor में दो तरह के task perform किये जाते है। copy mode और Interpret mode .

Copy Mode में HTML को output पर copy कर दिया जाता है और Interpret mode में PHP के कोड को execute किया जाता है और कोड के द्वारा प्राप्त output को final output में जोड़ दिया जाता है।

Exam में पूछे जाने वाले प्रश्न

1- PHP क्या है?

यह एक स्क्रिप्टिंग भाषा है, जिसका उपयोग web को develop करने के लिए किया जाता है।

2- PHP का क्या कार्य है?

इस भाषा का कार्य web को develop करना होता है।

Reference:https://www.w3schools.com/php/php_intro.asp

निवेदन:- अगर आपके लिए PHP in Hindi – (PHP क्या है और इसके फायदे) का यह पोस्ट उपयोगी रहा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ अवश्य share कीजिये. और आपके जो भी questions हो उन्हें नीचे comment करके बताइए. धन्यवाद.

Leave a Comment