जावास्क्रिप्ट क्या है और इसके फायदे – JavaScript in Hindi

हेल्लो दोस्तों! आज हम इस पोस्ट में (What is JavaScript in Hindi जावास्क्रिप्ट क्या है?) के बारें में पढेंगे और इसके advantages को भी देखेंगे. इसे आप पूरा पढ़िए, आपको यह आसानी से समझ में आ जायेगा. तो चलिए शुरू करते हैं:- 

JavaScript in Hindi – जावास्क्रिप्ट क्या है?

  • JavaScript एक प्रोग्रामिंग भाषा है जिसका उपयोग वेब एप्लीकेशन और वेबसाइट को develop (विकसित) करने के लिए किया जाता है।
  • जावास्क्रिप्ट एक Lightweight, और Cross-platform स्क्रिप्टिंग लैंग्वेज है। यहां lightweight का मतलब है “इसमें प्रोग्राम लिखने के लिए कम code की जरूरत होती है” और cross-platform का मतलब है कि “यह किसी भी डिवाइस में run हो जाती है।”
  • JavaScript के द्वारा यूज़र web page के साथ interact कर सकता है।
  • जावास्क्रिप्ट के द्वारा हम एक web page में dynamic features को डाल सकते हैं।
  • इसका प्रयोग HTML और CSS के साथ किया जाता है।
  • इसका इस्तेमाल client side और server side दोनों के development के लिए किया जाता है।
  • जावास्क्रिप्ट data को calculate, manipulate और validate करता है।
  • जावास्क्रिप्ट को 1995 में Brendan Eich ने विकसित किया था।
  • JavaScript ओपन-सोर्स लैंग्वेज है इसलिए इसका इस्तेमाल हम free में कर सकते हैं।
  • इसका उपयोग गेम और सॉफ्टवेयर को design करने के लिए भी किया जाता है।
  • JavaScript का सबसे पहला नाम LiveScript था। बाद में इसका नाम को बदल दिया गया।
  • वर्तमान समय में 97 प्रतिशत से भी ज्यादा वेबसाइट web page के behavior के लिए जावास्क्रिप्ट का उपयोग करती है। जावास्क्रिप्ट को scripting भाषा भी कहा जाता है।
  • जावास्क्रिप्ट का प्रयोग यूज़र की सूचना जैसे:-  IP address, browser की details आदि को एकत्रित करने के लिए भी किया जाता है।

इसे भी पढ़े –

Advantages of JavaScript in Hindi – जावास्क्रिप्ट के फायदे

इसके फायदे निम्नलिखित हैं-

1- JavaScript प्रोग्रामिंग भाषा के काम करने की speed (गति) काफी तेज होती है। क्योंकि यह प्रोसेसिंग में काफी कम वक्त लेता है।

2- जावास्क्रिप्ट को कोई भी व्यक्ति आसानी से सीख सकता है।

3- ज्यादातर सभी वेबसाइट में जावास्क्रिप्ट का उपयोग किया जाता है।

4- इसके द्वारा हम आकर्षक web page बना सकते है।

5- इसके द्वारा हम graphics को भी आसानी से बना सकते हैं।

6- इसके द्वारा हम presentation भी तैयार कर सकते है।

7- यह आजकल के सभी तरह के browser को सपोर्ट करता है।

8- जावास्क्रिप्ट को दूसरे लैंग्वेज जैसे कि – java, Python और C++ आदि के साथ भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

9- इसके द्वारा हम user-friendly इंटरफ़ेस बना सकते हैं।

10- इसके द्वारा front-end के साथ-साथ back end में भी काम कर सकते हैं। Front end के लिए react. js, angular.js का प्रयोग किया जाता है और back end के लिए node. js का प्रयोग किया जाता है।

11- जावास्क्रिप्ट के द्वारा वेबसाइट की performance बेहतर होती है क्योंकि इसमें बहुत कम code लिखना पड़ता है।

Disadvantages of JavaScript in Hindi – जावास्क्रिप्ट के नुकसान

इसके नुकसान नीचे दिए गए हैं-

1- जावास्क्रिप्ट के द्वारा बड़े application को develop करना मुश्किल होता है।

2- इसमें  debugging करना थोड़ा मुश्किल होता है। अर्थात इसमें किसी भी error (गलती) को ढूंढने में काफी समय लगता है।

3- यह number को integer में बदलने के लिए काफी समय लगाता है।

4- इसमें DOM (Document Object Model) काफी धीमा काम करता है।

5- JavaScript के code को कोई भी जानकार hacker आसानी से hack कर सकता है। जिसके कारण इसमें security (सुरक्षा) की कमी होती है।

6- आजकल के ब्राउज़र तो इसे सपोर्ट करते हैं परंतु पुराने browsers इसे सपोर्ट नहीं करते।

7- यह केवल single  inheritance को ही सपोर्ट करता है। यह multiple inheritance को सपोर्ट नही करता।

8- अगर जावास्क्रिप्ट कोड में कोई एक error आ जाये तो इससे पूरी वेबसाइट काम करना बंद कर सकती है।

Application of JavaScript in Hindi – जावास्क्रिप्ट के अनुप्रयोग

इसका प्रयोग बहुत सारीं जगहों पर किया जाता है-

1- वेबसाइट बनाने के लिए –

JavaScript का इस्तेमाल वेबसाइट को develop करने के लिए किया जाता है।  इसका उपयोग करके programmer  वेबसाइट को गतिशील (dynamic) और interactive बनाता है।

वेबसाइट में इसका प्रयोग ज्यादातर validation के लिए किया जाता है।

कुछ famous वेबसाइट हैं जिनमें जावास्क्रिप्ट का इस्तेमाल किया गया है – Google, YouTube, Facebook, Amazon, Twitter, और Flipkart आदि।

2- Web application बनाने के लिए

javascript का इस्तेमाल कंप्यूटर में चलने वाली web applications को बनाने के लिए किया जाता है।

इसमें web application को बनाने के लिए बहुत सारें framework का इस्तेमाल किया जाता है जैसे कि- React native, React और angular आदि।

आपने google maps देखा होगा। इसे भी जावास्क्रिप्ट का इस्तेमाल करके बनाया गया है।

3- Presentation के लिए

JavaScript का प्रयोग presentation तैयार करने के लिए भी किया जाता है। जावास्क्रिप्ट भाषा में scaling, animated bullet lists और syntax highlighting जैसे फीचर शामिल होते है। जिसकी मदद से कोई भी user आसानी से presentation को तैयार कर सकता है।

इसमें सुंदर प्रेजेंटेशन बनाने के लिए Reveal Js और Bespoke Js लाइब्रेरी का इस्तेमाल किया जाता है। अगर किसी व्यक्ति को प्रोग्रामिंग नहीं भी आती तो भी वह इन लाइब्रेरी का प्रयोग करके प्रेजेंटेशन बना सकता है।

4- Server Applications को बनाने के लिए

इसका इस्तेमाल server side एप्लीकेशन को बनाने के लिए भी करते हैं। इसके लिए इसमें node. js का प्रयोग किया जाता है।

Node. js के द्वारा http request को आसानी से  हैंडल किया जाता है।

आज के समय में बहुत बड़ी कंपनियाँ जैसे कि- GoDaddy, WalMart, Uber और PayPal आदि सभी node. js का इस्तेमाल करती हैं।

5- Web Servers बनाने में

इसका उपयोग web server को बनाने के लिए भी किया जाता है। जावास्क्रिप्ट में Node.js की मदद से वेब सर्वर का निर्माण किया जाता है।

Node.js के द्वारा बनाया गया सर्वर बहुत ही तेज होता है। यह बिना किसी buffering के data को ट्रांसफर करता है।

6- Game बनाने के लिए

इसका इस्तेमाल game को बनाने के लिए भी किया जाता है। जावास्क्रिप्ट और HTML का प्रयोग करके शानदार games को बनाया जाता है।

आजकल PUBG और Free-fire गेम बहुत famous हैं इन्हें बनाने के लिए भी जावास्क्रिप्ट का प्रयोग किया गया है।

इसके द्वारा हम 2d और 3d games को बना सकते हैं। जावास्क्रिप्ट में गेम बनाने के लिए game engine जैसे कि- Physics. js और Pixi. js का उपयोग किया जाता है।

 7- Art बनाने के लिए

इसका उपयोग 2D और 3D ग्राफ़िक्स को design करने के लिए किया जाता है। javascript में ग्राफ़िक्स को बनाने का feature हाल ही में add किया गया है। जिसकी मदद से कोई भी user आसानी से 2D और 3D ग्राफ़िक्स का निर्माण कर सकता है।

8- Smartwatch Apps को बनाने के लिए

javascript का उपयोग smart watch की applications को बनाने के लिए किया जाता है। Smart watch applications को बनाने के लिए Pebble.js फ्रेमवर्क का इस्तेमाल किया जाता है।

9- Mobile Apps बनाने के लिए

इसका इस्तेमाल मोबाइल एप्लीकेशन बनाने के लिए किया जाता है। जावास्क्रिप्ट का इस्तेमाल करके Android, और IOS apps को बनाया जाता है। हम मोबाइल में जितनी app चलाते हैं उन सभी मे जावास्क्रिप्ट का प्रयोग किया गया है।

10- Flying Robots बनाने के लिए

इसका प्रयोग उड़ने वाले robots बनाने के लिए किया जाता है। यानी जो डिवाइस हवा में आसानी से उड़ सकते है। flying robots का आकार काफी छोटा होता है। इन robots को आसानी से कंट्रोल किया जा सकता है।

Features of JavaScript in Hindi – जावास्क्रिप्ट की विशेषताएं

1- यह user के द्वारा दिए गये input को validate करता है. Forms में इसका इस्तेमाल Login id और password को validate करने के लिए किया जाता है.

2- यह ब्राउज़र में basic calculation को परफॉर्म करता है.

3- यह platform independent लैंग्वेज है इसका मतलब यह है कि इसे किसी भी device में चलाया जा सकता है.

4- इसके पास built-in-functions होते हैं. built-in-functions की मदद से code को आसानी से लिखा जाता है.

5- यह HTML content को जनरेट करता है.

6- यह user के ब्राउज़र और ऑपरेटिंग सिस्टम को detect कर लेता है.

History of JavaScript in Hindi – जावास्क्रिप्ट का इतिहास

जावास्क्रिप्ट को Brendan Eich ने 1995 में विकसित किया था. तब उस समय वो Netscape कंपनी में काम करते थे. Netscape तब का सबसे प्रसिद्ध browser था.

इस लैंग्वेज को पहले LiveScript कहा जाता था. बहुत सारें ऐसे लोग है जो JavaScript और Java को एक ही language समझते हैं परन्तु ये दोनों अलग-अलग भाषाएँ हैं.

java एक बहुत ही complex language है जबकि जावास्क्रिप्ट एक scripting लैंग्वेज है.

JavaScript को कैसे run करते हैं?

जावास्क्रिप्ट खुद से run नहीं होती. इसे run करने के लिए एक ब्राउज़र की आवश्यकता होती है. इसे run करने के लिए यूजर HTML page को request करता है. तब script को ब्राउज़र को भेज दिया जाता है और उसके बाद ब्राउज़र इसे execute करता है.

JavaScript और java के बीच अंतर

जावास्क्रिप्टजावा
यह weakly typed लैंग्वेज है.यह strongly typed लैंग्वेज है.
यह object पर आधारित स्क्रिप्टिंग लैंग्वेज है.यह object-oriented प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है.
यह ब्राउज़र पर run होता है.यह JVM (java virtual machine) पर run होता है.
इसके objects, prototype पर आधारित है.जावा के objects, class पर आधारित होते हैं.
यह multithreading को सपोर्ट नही करता.यह multithreading को सपोर्ट करता है.

JavaScript के Data Types

इसके निम्नलिखित प्रकार है:-

1.Boolean – Boolean डेटा की केवल दो values होती है- true या false। जिसमे से किसी एक value को चुनना होता है। सरल भाषा में कहे तो Boolean में सही और गलत values को चुना जाता है।

2.Null type – Null का उपयोग missing values और invalid values को रिप्रेजेंट करने के लिए किया जाता है।

3.Undefined type – undefined type को primitive type के रूप में भी जाना जाता है। जिसमे एक value undefined होती है। दुसरे शब्दो में कहे तो undefined में एक variable को  declare कर दिया जाता है। लेकिन इस declare variable को डिफाइन नहीं किया जाता।

4.Numeric types – Numeric type नंबरो की एक संख्या है। Numeric type दो प्रकार के होते है। Exact numeric type और Approximate numeric type .

  • Exact Numeric Type – एक्सेक्ट न्यूमेरिक टाइप INTEGER , BIGINT , DECIMAL , NUMERIC , NUMBER , और MONEY की फॉर्म में होते है।
  • approximate numeric type में DOUBLE PRECISION, FLOAT, और REAL आदि आते  है।

5.BigInt type –  bigint type को integer data type के रूप में भी जाना जाता है। जिसका उपयोग table और alternate table statement बनाने के लिए किया जाता है।

6.String type – String type का उपयोग टेक्स्ट डाटा को दर्शाने (represent) के लिए किया जाता है।

7.Symbol type – सिंबल टाइप को immutable primitive value के रूप में भी जाना जाता है। जिसका उपयोग object property की कुंजी (key) के स्थान पर किया जाता है।

Exam में पूछे जाने वाले प्रश्न

जावास्क्रिप्ट क्या है?

यह एक प्रोग्रामिंग भाषा है जिसका उपयोग वेब एप्लीकेशन और वेबसाइट को develop (विकसित) करने के लिए किया जाता है।

जावास्क्रिप्ट का क्या फायदा है?

इस भाषा के काम करने की speed (गति) काफी तेज होती है।

निवेदन:- अगर आपके लिए (What is JavaScript in Hindi जावास्क्रिप्ट क्या है?) का यह पोस्ट उपयोगी रहा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ अवश्य share कीजिये. और आपके जो भी questions हो उन्हें नीचे comment करके बताइए. धन्यवाद.

Leave a Comment