Scanner in Hindi – स्कैनर क्या है?

हेल्लो दोस्तों! आज हम इस आर्टिकल में (Scanner in Hindi – स्कैनर क्या है?) के बारें में पढेंगे. इसे बहुत ही आसान भाषा में लिखा गया है. इसे आप पूरा पढ़िए, यह आपको आसानी से समझ में आ जायेगा. तो चलिए शुरू करते हैं:-

Scanner in Hindi – स्कैनर क्या है?

  • स्कैनर एक डिवाइस है जो चित्रों, डॉक्यूमेंट और टेक्स्ट फाइलों को स्कैन करता है और उन्हें डिजिटल फॉरमेट में बदल देता है।
  • आसान शब्दो में कहे तो “स्कैनर एक इनपुट डिवाइस होता है जिसका इस्तेमाल image और documents को स्कैन करके उन्हें डिजिटल फॉरमेट में बदलने (convert) के लिए किया जाता है।”
  • दूसरे शब्दों में कहें तो, “Scanner एक ऐसा डिवाइस है जो हार्ड कॉपी को सॉफ्ट कॉपी में बदल देता है।”
  • स्कैनर इमेज और डॉक्यूमेंट को डिजिटल फॉरमेट में बदलने के बाद इन्हें कंप्यूटर की स्क्रीन पर डिस्प्ले करता है और इन्हें edit भी करता है।
  • Scanner डॉक्यूमेंट और फाइलों को डिजिटल फॉरमेट में बदलने ने के लिए एक प्रकार की तकनीक का उपयोग करता है जिसे हम OCR (Optical Character Recognition) कहते है।
  • स्कैनर का उपयोग करके हम किसी भी डॉक्यूमेंट और इमेज को स्कैन कर सकते है और कंप्यूटर पर उसका प्रिंट निकाल सकते है। यह किसी भी color (रंग) के डॉक्यूमेंट को स्कैन कर सकता है।
  • जब स्कैनर में फाइलों को डाला जाता है तो वह फिजिकल फॉर्म में होती है जिन्हे हम छू सकते है। इसके बाद स्कैनर उसे डिजिटल फॉर्मेट में बदल देता है जिसे हम छू नहीं सकते। सिर्फ कंप्यूटर की स्क्रीन पर देख सकते है।
  • स्कैनर में एक प्रकार का head होता है जो चीज़ो को स्कैन करने में मदद करता है। यह head इमेज को प्रकाश (light) के रूप में कैप्चर करता है और ऐसा करने के लिए यह एक या एक से अधिक सेंसर का उपयोग करता है।
  • स्कैनर कंप्यूटर के साथ जुड़ा रहता है और यह स्कैनिंग सॉफ्टवेयर के साथ आता है।
  • यदि आपके कंप्यूटर में प्रिंटर जुड़ा है तो आप स्कैन की गई चीज़ो का प्रिंट भी निकाल सकते है। ज्यादतर स्कैनर की सतह (surface) बिलकुल सपाट (flat) होती है और इनका resolution भी अलग अलग होता है। ।स्कैनर बहुत से प्रकार के होते है जैसे :- शीटफैड स्कैनर , हैंडहेल्ड स्कैनर , ड्रम स्कैनर आदि।
scanner in hindi

इसे भी पढ़े –

Types of Scanner in Hindi – स्कैनर के प्रकार

इसके बहुत सारें प्रकार होते हैं जिनके बारें में नीचे दिया गया है –

  1. Sheetfed Scanner (शीटफेड स्कैनर)
  2. Flatbed Scanner (फ्लैटबेड स्कैनर)
  3. Drum Scanner (ड्रम स्कैनर)
  4. Handheld Scanner (हैंडहेल्ड स्कैनर)
  5. Photo Scanner (फ़ोटो स्कैनर)
  6. Film Scanner (फ़िल्म स्कैनर)
  7. Portable Scanner (पोर्टेबल स्कैनर)

1- Sheetfed Scanners (शीटफ़ेड स्कैनर)

SheetFed Scanner एक ऐसा स्कैनर है,जो किताबों या अन्य मोटी वस्तुओं के बजाय केवल कागज को स्कैन करता है।

शीटफेड स्कैनर को Automatic Document Scanner (ADS) भी कहते हैं। शीटफेड स्कैनर में एक tray होती है जिसमें कागजों को डाला जाता है और यह स्कैनर इन कागजों को अपने आप स्कैन करता जाता है।

इस स्कैनर में sheet-feeder, scanning module, और calibration sheet जैसे कई घटक (component) शामिल होते है।

इस स्कैनर का उपयोग मुख्य रूप से केवल एक पेज (single page) वाले डॉक्यूमेंट को स्कैन करने के लिए किया जाता है।

फ्लैटबेड स्कैनर की तुलना में शीटफेड स्कैनर का आकार काफी छोटा होता है जिसके कारण इन्हे रखने के लिए ज्यादा जगह की आवश्यकता नहीं पड़ती। फ्लैटबेड स्कैनर की तुलना में इसका resolution कम होता है।

इस स्कैनर का उपयोग विभिन्न प्रकार की जगहों में किया जाता है जैसे :- दुकान, स्कूल और ऑफिस आदि। इस स्कैनर का सबसे बड़ा फायदा यह है की इसमें यूजर एक साथ कई दस्तावेजों स्कैन कर सकता है।

sheetfed scanner

2- Flatbed Scanners (फ़्लैटबेड स्कैनर)

फ्लैटबेड स्कैनर एक प्रकार का ऑप्टिकल स्कैनर है जो दस्तावेजों को स्कैन करने के लिए सपाट सतह (flat surface) का उपयोग करता है।

दुसरे शब्दो में कहे तो “Flatbed Scanner एक लोकप्रिय स्कैनर है जो एक सपाट सतह पर डॉक्यूमेंट और चित्रों को स्कैन करता है। इस स्कैनर में डॉक्यूमेंट को घुमाने (move) की आवश्यकता नहीं पड़ती क्योकि यह एक बार में ही पुरे डॉक्यूमेंट को स्कैन कर लेता है।”

इस स्कैनर में glass pane , optical CIS और CCD होता है जो चीज़ो को स्कैन करने में मदद करता है।

फ्लैटबेड स्कैनर में कांच की एक बड़ी सतह और एक ढक्कन होता है। आपको अपने डॉक्यूमेंट को स्कैन करने के लिए ग्लास के ऊपर रख देना है और फिर इसके ढक्कन को बंद कर देना है।

फ्लैटबेड स्कैनर का इस्तेमाल पुस्तकों, समाचार पत्रों और डीवीडी को स्कैन करने में करते है। फ्लैटबेड स्कैनर का इस्तेमाल सबसे ज्यादा किया जाता है इसका इस्तेमाल घरों और ऑफिस में डॉक्यूमेंट और चित्रों को स्कैन करने के लिए किया जाता है।

flatbed scanner

3- Drum Scanner (ड्रम स्कैनर)

ड्रम स्कैनर एक विशेष प्रकार का स्कैनर है जिसका इस्तेमाल अधिकतम resolution से image (चित्र) को स्कैन करने के लिए किया जाता है।

यह एक ऐसा स्कैनर है जो चीज़ो को स्कैन करने के लिए फोटोमल्टीप्लायर ट्यूब (photomultiplier tube) का उपयोग करता है।

ड्रम स्कैनर में एक प्रकार की glass tube होती है जिस पर images को रखा जाता है। इसमें एक रोशनी भी होती है। जब स्कैनर images को स्कैन करता है तो यह रोशनी उन images पर पड़ती है।

ड्रम स्कैनर का resolution अधिक होता है। इसका resolution 10,000 dpi (डॉट पर इंच) होता है।

इस स्कैनर का उपयोग बहुत कम लोगो के द्वारा किया जाता है जिसका कारण इनकी कीमत है। यह स्कैनर काफी महंगे होते है जिसके कारण लोग इन्हे खरीदना पसंद नहीं करते।

drum scanner

4- Handheld Scanner (हैंडहेल्ड स्कैनर)

यह एक छोटे आकार वाला स्कैनर है जिसका आकार इतना छोटा होते है की इसे हम अपने हाथो में पकड़ सकते है।

हैंडहेल्ड स्कैनर का उपयोग करने के लिए हमे इसे अपने हाथो में पकड़ना पड़ता है। इस स्कैनर को यूजर अपने हाथो में इसे पकड़ता है और चीज़ो को स्कैन करता है।

इसके छोटे आकार के कारण इसका वजन काफी हल्का होता है। यह एक ऐसा स्कैनर है जो चीज़ो को स्कैन करने के लिए उनकी तस्वीरों को खिचता है।

फ्लैटबेड और शीटफैड स्कैनर में चीज़ो को प्रिंट करने के लिए उन्हें उनके अंदर रखना पड़ता है लेकिन इसमें ऐसा नहीं करना पड़ता।

यह स्कैनर बाहर से ही दस्तावेजों और छवियों को स्कैन कर लेता है। इस स्कैनर में चीज़ो को स्कैन करने के लिए हाथो को स्थिर रखना पड़ता है। यदि यूजर ऐसा नहीं करता तो फाइलें स्कैन नहीं होंगी। अन्य स्कैनर की तुलना में यह स्कैनर सस्ता होता है।

handheld scanner

5- Photo Scanner (फ़ोटो स्कैनर)

फोटो स्कैनर एक ऑप्टिकल स्कैनर है जिसका इस्तेमाल मुख्य रूप से तस्वीरो (photos) को स्कैन करने के लिए किया जाता है। फोटो स्कैनर को image scanner भी कहते हैं।

फोटो स्कैनर का resolution काफी अच्छा और अधिक होता है जिसके कारण यह यूजर को उच्च गुणवत्ता (high quality) वाली फोटो प्रदान करता है।

फोटो स्कैनर दुसरे स्कैनर की तुलना में छोटा होता है जिसे रखने के लिए कम जगह की आवश्यकता पड़ती है। इस प्रिंटर का वजन भी काफी हल्का होता है जिन्हे एक स्थान से दुसरे स्थान पर ले जाने में यूजर को समस्याओ का सामना नहीं करना पड़ता।

फोटो स्कैनर सॉफ्टवेयर के साथ आते है जिनका उपयोग करके पुरानी और धुंधली फोटो को साफ़ किया जा सकता है।

photo scanner

6- Film Scanner (फ़िल्म स्कैनर)

फिल्म स्कैनर वह स्कैनर होते है जिनका उपयोग फोटोग्राफिक फिल्मो (photographic films) को स्कैन करने के लिए किया जाता है।

दूसरे शब्दों में कहें तो, “फिल्म स्कैनर एक ऐसा स्कैनर है जिसका इस्तेमाल movies और वीडियो को स्कैन करने के लिए किया जाता है।”

यह स्कैनर किसी भी आकार की photographic film को प्रिंट कर सकता है। इस प्रिंटर का उपयोग करके यूजर फिल्मो को क्रॉप और उनमे कुछ edit कर सकता है।

इस पिंटर में कुछ विशेष प्रकार के सॉफ्टवेयर होते है जो फिल्मो की quality को सुधारने में मदद करते है। इस स्कैनर का उपयोग डॉक्यूमेंट को स्कैन करने के लिए नहीं किया जा सकता।

film scanner

7- Portable Scanners (पोर्टेबल स्कैनर)

पोर्टेबल स्कैनर वह होते है जिनका आकार काफी छोटा होता है। इन स्कैनर का आकार इतना छोटा होता है कि आप इन्हे अपने जेब में भी रख सकते है।

इसे portable scanner इसलिए कहते हैं क्योंकि इसे हम अपने साथ कहीं पर भी ले जा सकते हैं।

यह स्कैनर वायरलेस और वायर्ड में उपलंब्ध होते है। इस स्कैनर का इस्तेमाल डॉक्यूमेंट को स्कैन करने के लिए किया जाता है।

इन स्कैनर का उपयोग करने के लिए यूजर को कंप्यूटर की आवश्यकता नहीं पड़ती। हम अपने स्मार्ट फ़ोन का उपयोग करके भी पोर्टेबल स्कैनर का उपयोग कर सकते है।

इस स्कैनर का इस्तेमाल मुख्य रूप से चित्रों को स्कैन करने और उन्हें एडिट करने, डॉक्यूमेंट को स्कैन करने और उन्हें बार कोड (barcode) में बदलने के लिए किया जाता है।

portable scanner

Applications of Scanner in Hindi – स्कैनर के अनुप्रयोग

Scanner का इस्तेमाल बहुत सारी जगहों में किया जाता है जिन्हें नीचे दिया गया है –

1- Copying (कॉपी करने में)

स्कैनर का उपयोग कंप्यूटर पर चीज़ो को कॉपी करने के लिए किया जाता है। यह पोस्टर, ब्रोशर, वर्कशीट, इमेज और अन्य डॉक्यूमेंट की कई कॉपी बनाने में मदद करता है।

2- Research (खोज में)

स्कैनर का उपयोग रिसर्च के क्षेत्र में किया जाता है। यह चीज़ो के बारे में रिसर्च करने में मदद करता है। इसका उपयोग कई स्थानों में चीज़ो का अध्यन करने के लिए किया जाता है जैसे :- स्कूल , बिज़नेस , ऑफिस और कम्पनी।

3- Display (दिखाने के लिए)

स्कैनर के द्वारा फिजिकल दस्तावेजों को डिजिटल रूप में कन्वर्ट किया जाता है और उसे कंप्यूटर की स्क्रीन पर डिस्प्ले किया जाता है। स्कैनर का उपयोग फिजिकल दस्तावेजों और छवियों को डिजिटल फॉर्मेट में बदलने के लिए किया जाता है।

यह चीज़ो को स्कैन करता है और उसे कंप्यूटर की स्क्रीन पर डिस्प्ले करता है। कंप्यूटर की स्क्रीन पर डिस्प्ले हो रहा डाटा को स्टोर भी किया जा सकता है।

4- Sharing Photos (फ़ोटो को शेयर करने के लिए)

स्कैनर का उपयोग फोटो, फाइलों और डॉक्युमेंट्स को शेयर करने के लिए भी किया जाता है। यूजर इंटरनेट का उपयोग करके इन सभी फाइलों को दूसरो के पास शेयर कर सकता है।

इसके अलावा स्कैनर फाइलों को कंप्यूटर के साथ शेयर करने में मदद करता है क्योकि यह चीज़ो को स्कैन करके कंप्यूटर की स्क्रीन पर डिस्प्ले करता है। यह भी एक प्रकार की शेयरिंग है।

5- Clean Image (इमेज को साफ करने में)

आज के समय में कई ऐसे स्कैनर होते है जो एडवांस सॉफ्टवेयर के साथ आते है जिनका उपयोग करके हम पुरानी तस्वीरों को साफ़ कर सकते है और उनकी quality को बेहतर बना सकते है।

Advantages of Scanner in Hindi – स्कैनर के फायदे

इसके बहुत से फायदे होते है:-

1- Reliable (विश्वसनीय)

स्कैनर अधिक विश्वसनीय (reliable) होते है जो फिजिकल डाक्यूमेंट्स को डिजिटल डाक्यूमेंट्स में कन्वर्ट करने का काम करते है।

2- Quality (क्वालिटी)

स्कैनर का resolution काफी अच्छा होता है जिसके कारण यह उच्च गुणवत्ता वाली तस्वीरों और फाइलों को स्कैन करते है।

3- Efficiency (कुशलता)

वर्तमान के स्कैनर काफी एडवांस और मॉडर्न होते है जिनमे काफी विशेषताए शामिल होती है। यह तेज गति के साथ काम करने में सक्ष्म होते है और कुशल (efficient) तरीके से अपने काम को करते है।

4- Ease of use (इस्तेमाल करने में आसान)

स्कैनर का उपयोग करना काफी आसान होता है। यूजर को इसका उपयोग करने के लिए बहुत तकनिकी ज्ञान की आवश्यकता नहीं पड़ती।

5- Durable (टिकाऊ)

यह अधिक टिकाऊ होते है जिसके कारण ये लम्बे समय तक चलते है।

Disadvantages of Scanner in Hindi – स्कैनर के नुकसान

इसके नुकसान:-

1- Expensive (महंगा)

स्कैनर काफी महंगे होते है जिन्हे खरीदने में यूजर के काफी पैसे खर्च होते है।

2- Scanner Maintenance Can be Expensive (मेंटेन करने का खर्चा)

स्कैनर को मेन्टेन करके रखने में काफी ज्यादा पैसो का खर्चा आता है। इसके अलावा स्कैनर का उपयोग काफी ज्यादा महंगा हो सकता है क्योकि हाई resolution वाले स्कैनर काफी महंगे आते है।

3- Output Depend Factor

स्कैनर से प्राप्त होने वाला आउटपुट डेटा कुछ फैक्टर की संख्या के आधार पर निर्भर करता है। यदि सब फैक्टर ठीक होते है तो आउटपुट अच्छा होगा और यदि खराब तो आउटपुट की quality खराब हो सकती है।

4- Slow (धीमा)

स्कैनर धीमी गति से चीज़ो को स्कैन करते है जिसके कारण यूजर का काफी समय बर्बाद होता है।

Exam में पूछे जाने वाले प्रश्न

स्कैनर क्या है?

स्कैनर एक डिवाइस है जो चित्रों, डॉक्यूमेंट और टेक्स्ट फाइलों को स्कैन करता है और उन्हें डिजिटल फॉरमेट में बदल देता है।

स्कैनर का फायदा क्या है?

स्कैनर का resolution काफी अच्छा होता है जिसके कारण यह उच्च गुणवत्ता वाली तस्वीरों और फाइलों को स्कैन करते है।

Reference:– https://www.javatpoint.com/what-is-scanner

निवेदन:- अगर आपके लिए (Scanner in Hindi – स्कैनर क्या है?) का यह पोस्ट उपयोगी रहा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ अवश्य share कीजिये. और आपके जो भी questions हो उन्हें नीचे comment करके बताइए. धन्यवाद.

Leave a Comment