What is CRT in Hindi – सीआरटी क्या है?

हेल्लो दोस्तों! आज हम इस आर्टिकल में (What is CRT in Hindi – CRT क्या है?) के बारें में पढेंगे. इसे बहुत ही आसान भाषा में लिखा गया है. इसे आप पूरा पढ़िए, यह आपको आसानी से समझ में आ जायेगा. तो चलिए शुरू करते हैं:-

CRT in Hindi – सीआरटी क्या है?

  • CRT का पूरा नाम Cathode Ray Tube (कैथोड रे ट्यूब) होता है। यह एक तकनीक है जिसका इस्तेमाल पुराने कंप्यूटर और टेलीविजन में किया जाता है।
  • CRT एक विशेष प्रकार की वैक्यूम ट्यूब (vacuum tube) है जिसमें एक प्रकार की इलेक्ट्रॉनिक बीम होती है जो फॉस्फोरसेंट सतह (phosphorescent surface) पर टकराती है जिसके कारण स्क्रीन पर चित्र दिखाए देते हैं।
  • दूसरे शब्दों में कहें तो, “CRT एक ऐसी डिवाइस है जो इलेक्ट्रिकल सिग्नल को विडियो सिग्नल में बदल देता है। जिसके कारण हमें स्क्रीन पर चित्र दिखाई देते हैं।”
  • CRT एक डिस्प्ले है जो वीडियो सिग्नल के रूप में चित्रों को बनाती है। यह डिस्प्ले टीवी और मॉनिटर में चित्रों और वीडियो को दिखाने में मदद करती है।
  • इस ट्यूब में एक या एक से अधिक electron guns और एक फॉस्फोर सतह (phosphor surface) होता है जो चीज़ो को स्क्रीन पर दिखाने में मदद करता है।
  • इसमें तीन रंग (लाल, हरा और नीला) के electron guns होते है जिन्हे हम शार्ट फॉर्म में RGB कहते है।
  • CRT को पिक्चर ट्यूब के नाम से भी जाना जाता है जो पुराने समय में डिस्प्ले डिवाइस के लिए एक मात्र विकल्प था। हालांकि आज के समय में बहुत से प्रकार के डिस्प्ले डिवाइस होते है जो चित्रों को स्क्रीन पर दिखाने में मदद करते है जैसे LCD और LED आदि।
  • CRT का आविष्कार Ferdinand Braun के द्वारा किया गया था।
  • इसके दो प्रकार होते है पहला Monochrome CRT और दूसरा Color CRT.
Cathode Ray tube CRT in Hindi

इसे भी पढ़े –

Types of CRT in Hindi – सीआरटी के प्रकार

इसके दो प्रकार होते है:-

1- Monochrome CRT

Monochrome CRT केवल एक color (रंग) को ही डिस्प्ले करता है। यह एक color में ही ग्राफिक्स और चित्रों को डिस्प्ले करता है।

Monochrome में mono का मतलब होता है “एक” और chrome का मतलब होता है “रंग”. इसलिए monochrome का मतलब हुआ एक रंग।

इसमें केवल एक ही इलेक्ट्रान गन होती है जो चित्रों को दिखाने में मदद करती है। मोनोक्रोम CRT को Black & White भी कहते है जिनका उपयोग शुरुआती कंप्यूटर में चित्रों को डिस्प्ले करने के लिए किया जाता था।

Monochrome CRT बनाने के लिए aluminium का उपयोग किया जाता है। इसमें एल्युमीनियम के बहुत से कार्य शामिल है जैसे प्रकाश को manage करना CRT से निकलने वाली गर्मी को manage करना , electrons को absorb करना और phosphor को जलने से बचाना।

2- Color CRT

यह एक ऐसा CRT है जो लाल, हरे और नीले रंग को उत्पन्न (Produce) करता है। यह तीन अलग अलग रंग को उतपन्न करते है उसका कारण यह है की कलर CRT अलग-अलग फॉस्फोर का उपयोग करते हैं।

इस CRT में तीन प्रकार की इलेक्ट्रान गन शामिल होती है जो लाल, हरे और नीले रंग को उतपन्न करने में मदद करती है।

Features of CRT in Hindi – सीआरटी की विशेषताएं

इसकी निम्नलिखित विशेषताए है:-

1- Size (आकार)

CRT का आकार बड़ा होता है। इसका आकार जितना बड़ा होगा उतना ही बड़ा स्क्रीन का diameter होगा। एक CRT का आकार 1, 2, 3, 5 और 7 इंच तक हो सकता है। यदि CRT में 5GP1 नंबर है तो इसका अर्थ यह है की उसका आकार 5 इंच है।

2- Contrast

CRT एक तकनीक है जो ज्यादा contrast प्रदान करती है। इसका अर्थ यह है कि इसमें ज्यादा गहरे रंग की तस्वीरें अच्छे से दिखाई देती है। LCD की तुलना में CRT अधिक मात्रा में कंट्रास्ट प्रदान करती है।

3- Cost (कीमत)

CRT तकनीक ज्यादा महंगी नहीं है। यदि आप बजार में इसे खरदीने जायेंगे तो हो सकता है यह आपको ना मिले। क्योकि अब CRT का उत्पादन (production) नहीं किया जाता जिसके कारण इसे ढूढ़ने में लोगो को काफी समस्याओ का सामना करना पड़ता है।

Advantages of CRT in Hindi – सीआरटी के फायदे

1- यह LCD और LED की तुलना में काफी सस्ती तकनीक है।

2- इसका response time काफी तेज होता है।

3- CRT का पिक्सेल रिज़ॉल्यूशन (Pixel resolution) अधिक होता है जिसके कारण यह उच्च गुणवत्ता (high quality) वाली चित्रों को डिस्प्ले करता है।

4- यह अधिक रंगो को उतपन्न कर सकते है।

5- इनका उपयोग अंधेरे रोशनी (dark light) वाली जगह में भी किया जा सकता है।

6- इसमें प्रकाश को कन्वर्ट करके रौशनी को बढ़ाया जा सकता है।

7- यह उच्च गुणवत्ता (high quality) वाले चित्रों और वीडियो को डिस्प्ले करने में सक्ष्म होते है।

Disadvantages of CRT in Hindi – सीआरटी की हानियां

1- CRT का आकार बड़ा होता है जिसके कारण इसे रखने के लिए ज्यादा जगह (space) की आवश्यकता पड़ती है।

2- यह काफी भारी होते है जिन्हे कही ले जाने में यूजर को समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

3- यह बहुत अधिक मात्रा में बिजली का उपयोग करता है।

4- यह अधिक मात्रा में गर्मी उतपन्न करता है।

5- फ्लैट-पैनल डिस्प्ले की तुलना में महंगे होते है।

Components of CRT in Hindi – सीआरटी के अवयव

1- Electron Gun − यह इलेक्ट्रॉन बीम को उत्पन्न करता है।

2- Anodes − ये इलेक्ट्रॉन की गति (speed) को बढ़ा देते हैं।

3- Fluorescent Screen − यह फॉस्फर से बना होता है. यह प्रकाश का उत्सर्जन करता है जब इलेक्ट्रॉन उस पर टकराते हैं।

4- Horizontal and Vertical Deflection Plates − ये प्लेटें इलेक्ट्रॉन बीम को सही दिशा देने के लिए चुंबकीय क्षेत्र पैदा करती हैं।

5- Evacuated Glass Envelope – यह पूरी CRT को इकट्ठा करके रखता है।

इसे पढ़ें – डिस्प्ले डिवाइस क्या है?

Exam में पूछे जाने वाले प्रश्न

CRT क्या है?

यह एक तकनीक है जिसका इस्तेमाल पुराने कंप्यूटर और टेलीविजन में किया जाता है।

CRT के कितने प्रकार होते है?

इसके दो प्रकार होते है

Reference:https://www.javatpoint.com/what-is-crt

निवेदन:- अगर आपके लिए (What is CRT in Hindi – CRT क्या है?) का यह पोस्ट उपयोगी रहा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ अवश्य share कीजिये. और आपके जो भी questions हो उन्हें नीचे comment करके बताइए. धन्यवाद.

Leave a Comment