Web Browser in Hindi – वेब ब्राउज़र क्या है और इसके प्रकार

हेल्लो दोस्तों! आज हम इस आर्टिकल में (Web Browser in Hindi – वेब ब्राउज़र क्या है?) के बारें में पढेंगे. इसे बहुत ही आसान भाषा में लिखा गया है. इसे आप पूरा पढ़िए, यह आपको आसानी से समझ में आ जायेगा. तो चलिए शुरू करते हैं:-

Web Browser in Hindi – वेब ब्राउज़र क्या है?

  • वेब ब्राउज़र एक सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन है जिसका इस्तेमाल इन्टरनेट में मौजूद data और information को एक्सेस करने के लिए किया जाता है।
  • दूसरे शब्दों में कहें तो, “Web Browser एक प्रकार का सॉफ्टवेयर या प्रोग्राम होता है जिसका उपयोग www (वर्ल्ड वाइड वेब) पर उपलब्ध जानकारी का पता लगाने के लिए किया जाता है।”
  • वेब ब्राउज़र के द्वारा हम किसी भी वेबसाइट को access कर सकते हैं और वेबसाइट में मौजूद जानकारी को पढ़ सकते हैं और डाउनलोड भी कर सकते हैं.
  • वर्ल्ड वाइड वेब पर जानकारी फोटो , वीडियो, एनीमेशन और text के रूप में हो सकती है.
  • इसका सबसे अच्छा उदाहरण यही है की आप इस आर्टिकल को एक वेब ब्राउज़र की मदद से ही देख पा रहे है।
  • ब्राउज़र एक प्रोग्राम की तरह होता है जो यूजर के कंप्यूटर या मोबाइल पर चलता है और यूजर के द्वारा मांगी गई जानकारी को डिस्प्ले करता है।
  • जब भी कोई यूजर किसी ब्राउज़र में कुछ इनपुट देता है तो वह ब्राउज़र वेब सर्वर से सम्पर्क करके यूजर को आउटपुट देता है। ब्राउज़र HTTP (हाइपरटेक्स्ट ट्रांसफर प्रोटोकॉल) का उपयोग करके इंटरनेट पर वेब सर्वर को request भेजता है।
  • किसी भी ब्राउज़र को काम करने के लिए स्मार्टफोन, कंप्यूटर, टैबलेट जैसे devices की ज़रूरत पड़ती है। इसके अलावा एक ब्राउज़र से जानकारी प्राप्त करने के लिए इंटरनेट कनेक्शन की ज़रूरत पड़ती है।
  • आज के समय में हमारे पास कई प्रकार के वेब ब्राउज़र उपलब्ध है जैसे :- Google Chrome, Microsoft Edge, Mozilla Firefox, और Safari आदि।

Advantages of Web Browser in Hindi – वेब ब्राउज़र के फायदे

1- वेब ब्राउज़र तेज गति से load हो जाते है। इसका मतलब यह है कि हम इसमें बहुत तेजी से किसी भी वेबसाइट को open कर सकते हैं.

2- वेब ब्राउज़र का इंटरफ़ेस आसान होता है जिसके कारण यूजर आसानी से ब्राउज़र का उपयोग कर पाता है।

3- यह वर्ल्ड वाइड वेब से जानकारी का पता लगाने में मदद करता है।

4- कोई भी प्रोग्रामर अपने प्रोग्राम को वेब ब्राउज़र की मदद से test कर सकता है.

5- वेब ब्राउज़र फ्री होते है इनका इस्तेमाल करने के लिए यूजर को पैसे नहीं देना पड़ता।

6- वेब ब्राउज़र हमारे data को स्टोर करके रखता है जैसे- email, password आदि.

7- आजकल के ज्यादातर ब्राउज़र सुरक्षित होते हैं अर्थात् इसमें वायरस नहीं आते.

8- वेब ब्राउज़र के द्वारा हम किसी भी प्रकार की files को डाउनलोड कर सकते हैं.

Types of Web Browser in Hindi – वेब ब्राउज़र के प्रकार

इसके बहुत सारें प्रकार होते हैं जो कि नीचे दिए गये हैं:-

types of web browser in Hindi

1- Opera (ओपेरा)

  • ओपेरा एक वेब ब्राउज़र है जिसका निर्माण वर्ष 1994 में Telenor कंपनी के द्वारा किया गया था।
  • इसके बाद opera को अप्रैल 2015 में ओपेरा सॉफ्टवेयर के द्वारा खरीद लिया गया था।
  • Opera को कंप्यूटर और मोबाइल फ़ोन के लिए डिज़ाइन किया गया था लेकिन अब यह मोबाइल फ़ोन के लिए ज्यादा लोकप्रिय है।
  • यह ब्राउज़र chromium पर आधारित है और यह blink layout engine का उपयोग करता है।

2- Apple Safari (एप्पल सफारी)

  • यह भी एक वेब ब्राउज़र है जिसका इस्तेमाल Mac और Windows ऑपरेटिंग सिस्टम में किया जाता है. इसके अलावा इसका इस्तेमाल iPhone, iPad, और iPod में किया जाता है.

  • सफारी ब्राउज़र का निर्माण वर्ष 2003 में Apple कंपनी के द्वारा किया गया था।

  • इसे मैकबुक, मैक कंप्यूटर, iPad और iPhone जैसे devices में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है।

  • Safari ब्राउज़र वेबकिट इंजन का उपयोग करता है, जिसका उपयोग font को प्रस्तुत करने, ग्राफिक्स को डिस्प्ले करने और पेज लेआउट को निर्धारित करने के लिए किया जाता है।

3- Google Chrome (गूगल क्रोम)

  • गूगल क्रोम एक ओपन सोर्स ब्राउज़र है जिसका निर्माण वर्ष 2008 में गूगल के द्वारा किया गया था।
  • यह एक लोकप्रिय ब्राउज़र है। विश्व में इस ब्राउज़र को सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है.
  • इस ब्राउज़र को विंडोज, लिनक्स, मैक, एंड्रॉइड और IOS ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए डिज़ाइन किया गया है।
  • यह ब्राउज़र यूजर के लिए सबसे सरल ब्राउज़र माना जाता है जो यूजर के डेटा को सुरक्षित रखता है।
  • इस ब्राउज़र का इंटरफ़ेस भी काफी आसान होता है। गूगल क्रोम लगभग 50 से भी ज्यादा भाषाओ में उपलब्ध है जिसका अर्थ यह है की यूजर अपनी इच्छा अनुसार भाषा चुन सकता है।
  • Google chrome में icognito mode होता है जिसके द्वारा आप private में किसी भी वेबसाइट को access कर सकते हैं.

4- Mozilla Firefox (मोजिल्ला फायरफॉक्स)

  • Mozilla Firefox का निर्माण Mozilla Foundation और उसकी कंपनी मोज़िल्ला कारपोरेशन के द्वारा किया गया था।
  • मोज़िल्ला ब्राउज़र को पहली बार वर्ष 2002 में लांच किया गया था।
  • जिस समय इस ब्राउज़र को लांच किया गया था उस समय इसका नाम phoenix था।
  • यह ब्राउज़र तेज गति से काम करता है और सभी प्रकार के font को सपोर्ट करता है।
  • यह ब्राउज़र chrome की तुलना में कम मात्रा में RAM का उपयोग करता है जो कंप्यूटर के लिए काफी अच्छी बात है।
  • इसका इस्तेमाल mobile phone में भी किया जा सकता है.

5- Internet Explorer (इन्टरनेट एक्सप्लोरर)

  • इस ब्राउज़र का निर्माण Microsoft Corporation के द्वारा किया गया है।
  • इस ब्राउज़र को माइक्रोसॉफ्ट ने वर्ष 1995 विकसित में किया था।
  • यह ब्राउज़र विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम में पहले से ही इनस्टॉल होता था जिसके कारण इसे इनस्टॉल करने की ज़रूरत नहीं पड़ती थी।
  • windows 10 के आने के बाद internet explorer को बंद कर दिया गया है इसकी जगह अब ‘Microsoft Edge’ ने ले ली है.

History of Web Browser in Hindi – वेब ब्राउज़र का इतिहास

  • सबसे पहले वेब ब्राउज़र का निर्माण वर्ष 1990 में Tim Berners-Lee के द्वारा किया गया था। जिसका नाम WorldWideWeb था। कुछ समय के बाद इस ब्राउज़र का नाम बदल दिया गया और इसका नाम Nexus रख दिया गया।
  • इसके बाद वर्ष 1992 में Lynx नाम के ब्राउज़र को लांच किया गया। यह एक text-based वेब ब्राउज़र था जो चित्रों को डिस्प्ले नहीं कर पाता था।
  • दुनिया का सबसे पहला ग्राफिकल यूजर इंटरफेस ब्राउज़र NCSA Mosaic था। यह एक लोकप्रिय वेब ब्राउज़र था जिसे 1993 में लांच किया गया था।
  • 1994 में Mosaic ब्राउज़र में कुछ सुधार किये गए थे ताकि इसकी performance और अच्छी हो जाये।
  • वर्ष 1995 में माइक्रोसॉफ्ट ने Internet Explore को लांच किया था। यह माइक्रोसॉफ्ट के द्वारा डिज़ाइन किया गया पहला ब्राउज़र था।
  • 1994 के समय में opera ब्राउज़र पर एक रिसर्च चालू हुई थी और इसे 1996 में लांच किया गया।
  • apple के safari browser को वर्ष 2003 में लांच किया गया था। इस ब्राउज़र को Macintosh कंप्यूटर के लिए डिज़ाइन किया गया था।
  • 2004 में मोज़िला ने फ़ायरफ़ॉक्स को लांच किया था।
  • इसके बाद 2007 में Mobile Safari ब्राउज़र को apple मोबाइल के लिए लांच किया गया।
  • 2008 में chrome browser को लांच किया गया। यह एक लोकप्रिय ब्राउज़र है जिसे गूगल के द्वारा डिज़ाइन किया गया था।
  • 2011 में एक तेज गति से काम करने वाले ब्राउज़र को लांच किया गया जिसका नाम Opera Mini था।
  • इसके बाद वर्ष 2015 में माइक्रोसॉफ्ट ने Edge browser को लॉन्च किया था।

Features of web browser in Hindi – वेब ब्राउज़र की विशेषताएं

1- वेब ब्राउज़र में एक refresh बटन होता है जो वेबसाइट के कंटेंट को reload करने में मदद करता है। यदि किसी कारण ब्राउज़र में पूरा कंटेंट load नहीं हुआ तो ऐसे में आप refresh बटन का उपयोग करके कंटेंट को reload कर सकते है।

2- इसमें एक स्टॉप बटन भी होता है जिसका उपयोग सर्वर के साथ वेब ब्राउज़र के संचार (communication) को रोकने के लिए किया जाता है।

3- इस ब्राउज़र में एक होम पेज का बटन भी शामिल होता है जो यूजर को वेबसाइट के होम पेज पर जाने में मदद करता है।

4- इसमें एक वेबसाइट का एड्रेस बार होता है जिसमें यूजर किसी भी वेबसाइट का url डालकर वेबसाइट को access कर सकता है.

5- इसमें एक ब्राउज़िंग फीचर होता है जो यूजर को एक ही विंडो पर कई वेबसाइट खोलने की परमिशन देता है। इस फीचर का नाम Tabbed browsing होता है जिसकी मदद से यूजर एक ही समय में कई वेबसाइट को open कर सकता है।

6- वेब ब्राउज़र में हम अपनी पसंद की वेबसाइट को बुकमार्क कर सकते हैं. जो कि एक बहुत ही उपयोगी feature है.

Functions of Web Browser in Hindi – वेब ब्राउज़र के कार्य

1- वेब ब्राउज़र का मुख्य कार्य वर्ल्ड वाइड वेब (WWW) से जानकारी प्राप्त करना और इस जानकारी को यूजर तक पहुँचाना है।

2- वेब ब्राउज़र का काम यूजर को किसी भी वेबसाइट में विजिट करने में मदद करना होता है।

3- वेब ब्राउज़र की मदद से एक समय पर बहुत सारीं websites को ओपन किया जा सकता है।

4- वेब ब्राउज़र की मदद से यूजर वेबसाइट से फाइलों को download कर सकता है।

Component of Web Browser in Hindi – वेब ब्राउज़र के घटक

इसके components निचे दिए गए है :-

components of web browser in hindi

1- User Interface

यूजर इंटरफ़ेस एक ऐसा एरिया होता है जिसमे यूजर ब्राउज़र के साथ इंटरैक्ट करने के लिए एड्रेस बार, बैक और फॉरवर्ड बटन, मेनू, बुकमार्किंग जैसे ऑप्शन का उपयोग कर सकता है।

2- Browser Engine

यह UI (यूजर इंटरफेस) और रेंडरिंग इंजन (rendering engine) को ब्रिज के रूप में जोड़ता है। इसके अलावा यह यूजर इंटरफ़ेस से इनपुट के आधार पर रेंडरिंग इंजन को manipulate करता है।

3- Rendering Engine

यह एक प्रकार का इंजन होता है जो ब्राउज़र स्क्रीन पर कंटेंट को डिस्प्ले करता है। यह HTML, XML फ़ाइलों और images को ट्रांसलेट करता है और इनमें मौजूद content को स्क्रीन पर दिखाता है.

4- Networking

नेटवर्किंग HTTP और FTP जैसे इंटरनेट प्रोटोकॉल का उपयोग करके वेबसाइट को open करता है. नेटवर्किंग बहुत उपयोगी घटक है जिसकी मदद से वेबसाइट को open किया जाता है.

5- JavaScript Interpreter

यह जावास्क्रिप्ट कोड को ट्रांसलेट और execute करता है। यह केवल उसी कोड को ट्रांसलेट और execute करता है जो वेबसाइट में मौजूद होता है।

6- UI Backend

इसका उपयोग बेसिक कॉम्बो बॉक्स और विंडोज का निर्माण करने के लिए किया जाता है।

7- Data Storage

डेटा स्टोरेज एक लेयर होती है जिसका इस्तेमाल ब्राउज़र द्वारा सभी सूचनाओं (information) को स्टोर करने के लिए किया जाता है। उदहारण के लिए cookies.

Difference between Web Browser & Web Server – वेब ब्राउज़र और वेब सर्वर में अंतर्

Web BrowserWeb Server
वेब ब्राउज़र एक ऐसा software होता है जिसका उपयोग इन्टरनेट में मौजूद websites को एक्सेस करने के लिए किया जाता है।वेब सर्वर एक सॉफ्टवेयर होता है जो कि वेबसाइट को serve करता है.
यह वेब सर्वर को request करता है.यह वेब ब्राउज़र की request को accept करता है.
यह HTTP request को send करता है और HTTP response को प्राप्त करता है.यह HTTP request को प्राप्त करता है और HTTP response को send करता है.
इसका कोई processing model नहीं होता है.इसके पास processing model होता है.
वेब ब्राउज़र data को cookies के रूप में स्टोर करता है.वेब सर्वर के पास data को स्टोर करने के लिए memory होती है
इसका उदाहरण है – google chromeइसका उदाहरण है – Apache server
इसे स्थापित करने में कम समय लगता है।इसे स्थापित करने में ज्यादा समय लगता है।
यह free (मुफ्त) होता है।यह free नहीं होता इसका इस्तेमाल करने के लिए यूजर को पैसे खर्च करने पड़ते है।

Exam में पूछे जाने वाले प्रश्न

सबसे पहले वेब ब्राउज़र को कब विकसित किया गया था?

1990 में

किन्हीं 5 web browsers के नाम लिखिए?

Google chrome, Safari, Opera, FireFox, और Microsoft Edge.

Reference:https://www.geeksforgeeks.org/web-browser/

निवेदन:- अगर आपके लिए (Web Browser in Hindi – वेब ब्राउज़र क्या है?) का यह पोस्ट उपयोगी रहा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ अवश्य share कीजिये. और आपके जो भी questions हो उन्हें नीचे comment करके बताइए. धन्यवाद.

Leave a Comment