IT Act 2000 in hindi & cyber crime in hindi

cyber crime & it act 2000

It act 2000 in hindi:-

information technology act 2000 को ITA 2000 भी कहते है. यह भारतीय संसद का एक एक्ट है तथा इसे 17 अक्टूबर 2009 को एक घोषणा के द्वारा इसे संशोधित किया गया.

यह एक्ट साइबर अपराध (cryber crime), ई कॉमर्स से सम्बन्धित क़ानून है.

हम सभी इन्टरनेट में बहुत सारी activities करते है जैसे:- ब्राउज़िंग, selling, surfing आदि. तो इन सभी को सुरक्षित करने के लिये एक act बनाया गया जिसे हम IT act 2000 कहते है. इस act के तहत आपको इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करने के प्रावधान क्या है, नियम क्या है बताये गये है.

आजकल हमारे सभी काम electronically होता है पहले हम verbal कम्युनिकेशन करते थे. परन्तु हम आजकल e communication (जैसे- फेसबुक, whatsapp, ट्विटर आदि) करते है, पहले सामान दुकान में जाकर खरीदते थे परन्तु आज e commerce वेबसाइट (जैसे:- amazon, snapdeal) से खरीद लेते है. और हमारी governance भी e-governance हो गयी है.

लेकिन इसका नेगेटिव पार्ट यह है कि जो अपराधी है वह इसका इस्तेमाल अपराध (cyber crime) करने के लिए करते है तो उनके लिये एक law बनाया गया है जिसे हम IT act 2000 कहते है तथा इसमें बहुत से प्रावधान है.

IT act में 13 भाग तथा 90 अनुभाग है. तथा यह इंडियन पैनल कोड, 1860, इंडियन एविडेंस एक्ट, 1872, बैंकर्स बुक एविडेंस एक्ट, 1891, रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया एक्ट, 1934 आदि पर आधारित है.

CYBER CRIME in hindi (साइबर क्राइम क्या है?):-

साइबर क्राइम:- क्राइम वह काम है जो क़ानून के विरुद्ध तथा मानवता के विरुद्ध किये जाते है. और वह क्राइम जो इन्टरनेट, साइबर तथा नेटवर्क पर किये जाते है, वह सारें के सारें cyber crime कहलाते है.

दूसरे शब्दों में कहें तो यह एक illegal activity है जिसे कंप्यूटर या इन्टरनेट के द्वारा किया जाता है.

types of cyber crime (साइबर क्राइम के प्रकार):- साइबर क्राइम बहुत प्रकार के हो सकते है यहाँ कुछ निम्न है:-
1:- हैकिंग
2:- denial of service attack
3:- computer fogery
4:- phishing
5:- spoofing
6:- threatning
7:- online gambling
8:- pornography
9:- piracy

निवेदन:- आपको यह पोस्ट कैसी लगी हमें comment के द्वारा बताइए तथा इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ share करें. धन्यवाद.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *