Concepts of OOPS in hindi

OOPS concepts in hindi

OOP का पूरा नाम object oriented programming (ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग) है। OOPS concepts निम्नलिखित होते है:-

1:- Object
2:- Class
3:- Encapsulation
4:- Abstraction
5:- Inheritance
6:- Polymorphism

Object

ऑब्जेक्ट, class का instance होता है जो कि variable के स्थान पर वास्तविक value को contain किये रहता है।
ऑब्जेक्ट एक बेसिक run-time entity होती है।
सामन्यतया, Object वह प्रत्येक वस्तु होती है जिसको कि पहचाना जा सकें। हमारी आसपास की सारी वस्तुएँ जैसे:-पेन, किताब, कुर्सी, गाडी, टीवी आदि सभी ऑब्जेक्ट्स है।

Class

क्लास एक ही तरह के objects का समूह होता है। जैसे:- आम, अमरुद तथा सेब आदि ये सभी फल है, और ये सभी class fruit के सदस्य हुए।

क्लास यूजर-डिफाइंड डेटा टाइप होता है तथा क्लास data तथा functions का समूह होता है।

Encapsulation

डेटा तथा फंक्शन को एक ही यूनिट में सम्मिलित करना(जोड़ना) Encapsulation कहलाता है।

Abstraction

Abstraction का अर्थ है कि object के केवल आवश्यक जानकारी को प्रदर्शित करना तथा background की जानकारी को छुपाये रखना।

Inheritance 

inheritance का अर्थ है ‘विरासत’।
जावा में एक क्लास के द्वारा दूसरी क्लास के properties(गुणों) तथा methods को inherit कर लेना inheritance कहलाता है।

वह क्लास जो दूसरी क्लास से derived होती है वह subclass कहलाती है तथा वह क्लास जिससे subclass derived हुई होती है वह super class कहलाती है।
Superclass को हम base class भी कहते है तथा subclass को हम derived class भी कहते है।

inheritance को पूरा पढने के लिए क्लिक करें.

Polymorphism in hindi

polymorphism ग्रीक भाषा से लिया गया शब्द है जिसमें poly का अर्थ है many और morphism का अर्थ है forms. तो polymorphism का अर्थ हुआ many forms.

Polymorphism एक ऐसा concept है जिसमें हम एक ही काम को दो भिन्न तरीके से कर सकते है।

जावा में Polymorphism दो तरह की होती है जो निम्न है:-
1:-Compile-time polymorphism(static polymorphism)
2:-Run-time polymorphism(Dynamic polymorphism)

1:-Compile time polymorphism:- Compile time polymorphism को हम method overloading या early binding भी कहते है।

इस polymorphism का अर्थ है कि हम समान नाम के methods को different signatures के साथ declare करते है क्योंकि हम अलग-अलग task को एक ही method name के साथ perform क्र सकते है।

Run-time polymorphism:-इस प्रकार के polymorphism को late binding या dynamic binding या method overriding कहते है।
इस polymorphism का अर्थ है कि हम समान नाम के methods को समान signature के साथ declare करते है।

निवेदन:- अगर आपको oops concepts की यह पोस्ट पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ share करें. धन्यवाद.

2 thoughts on “Concepts of OOPS in hindi

Leave a Comment